Fire and Ice Summary in Hindi and English

Fire and ice summary in Hindi:- This is the fire and ice summary in Hindi given according to the CBSE curriculum. After reading a summary of this poem you will clearly understand this poem very easily.

About the poet

Fire and ice is a poem written by the poet Robert frost. He was a citizen of the USA. He was a well-known poet of his time. He wrote epics like The boy’s will and The Road not taken. He won gold medals in writing. In this poem, the poet has discussed the end of the world by referring to unique symbols like fire and ice through which the devastating end of the world has been shown.

Fire and ice कवि रॉबर्ट फ्रॉस्ट द्वारा लिखी गई कविता पर आधारित है। वह अमेरिका का नागरिक था। वे अपने समय के जाने-माने कवि थे। उन्होंने द बॉयज़ विल और द रोड नॉट टेकन जैसे महाकाव्य लिखे। उन्होंने लिखित में स्वर्ण पदक जीते। इस कविता में कवि ने अग्नि और बर्फ जैसे अनूठे प्रतीकों का जिक्र करते हुए दुनिया के अंत की चर्चा की है, जिसके माध्यम से दुनिया का विनाशकारी अंत दिखाया गया है।

Explanation of fire and ice summary in Hindi

 In this poem, fire is a symbol of lust and endless desires and Ice is the symbol of hatred. The poet wants to aware the humanity mankind that everything will end one day by human misdeeds. The poet says that both fire and Ice are disastrous firstly, the world will end by the fire of lust and desires. If the world has to destroy twice, it will destroy by fire and Ice. Firstly, the world will end with the fire of lust and desires and then be destroyed by the ice of hatred between man and man. These symbols were used majorly by the poet Robert frost.

इस कविता में अग्नि वासना और अंतहीन इच्छाओं का प्रतीक है और बर्फ घृणा का प्रतीक है। कवि मानवता को जागरूक करना चाहता है कि सब कुछ एक दिन मानव कुकर्मों से समाप्त हो जाएगा। कवि कहता है कि अग्नि और बर्फ दोनों विनाशकारी हैं सबसे पहले, वासना और इच्छाओं की आग से दुनिया समाप्त हो जाएगी। संसार को दो बार नष्ट करना है तो वह अग्नि और बर्फ से नष्ट हो जाएगा। सबसे पहले संसार वासना और इच्छाओं की अग्नि से समाप्त होगा और फिर मनुष्य और मनुष्य के बीच घृणा की बर्फ से नष्ट हो जाएगा। इन प्रतीकों का उपयोग मुख्य रूप से कवि रॉबर्ट फ्रॉस्ट द्वारा किया गया था।

Conclusion

So today we discussed fire and ice summary in Hindi in detail. This poem is written by Robert frost. We have discussed all the symbols shared by the poets to discuss the misdeeds of humans which will eventually lead to their devastation of themselves. The fire and ice symbol is used descriptively. We hope you liked our blog fire and ice summary in Hindi. kindly share this blog with your friends, if you find it slightly helpful.

आज हमने fire and ice summary in hindi पर विस्तार से चर्चा की। यह कविता रॉबर्ट फ्रॉस्ट ने लिखी है। हमने कवियों द्वारा मनुष्यों के कुकर्मों पर चर्चा करने के लिए साझा किए गए सभी प्रतीकों पर चर्चा की है जो अंततः उनकी तबाही का कारण बनेंगे। अग्नि और बर्फ के प्रतीक का वर्णनात्मक रूप से उपयोग किया जाता है। हमें उम्मीद है। कि आपको हिंदी में हमारा ब्लॉग fire and ice summary in hindi पसंद आया होगा। कृपया इस ब्लॉग को अपने दोस्तों के साथ साझा करें, अगर आपको यह थोड़ा उपयोगी लगता है।

Also read:-Dust-of-snow-summary-class-10

Tagged with: CBSE Notes For Class 10 | class 10 | fire and ice summary | Fire and Ice Summary in Hindi | Fire and Ice Summary in Hindi and English | summary in english | summary in hindi

Class: Subject: ,

Have any doubt

Your email address will not be published. Required fields are marked *